main news उत्तर प्रदेश भारत

सीडी की जानकारी देने पर एक लाख इनाम

muzaffarnagar-riot-522c70ad278f7_lमुजफ्फरनगर व आसपास के इलाकों में हिंसा का दौर थमने के बावजूद भड़काऊ वीडियो क्लिप व सीडी पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई है।

इसके मद्देनजर डीजीपी देवराज नागर ने वीडियो क्लिप व सीडी को प्रसारित करने वालों की ठोस जानकारी देने वाले को एक लाख तक का इनाम देने की घोषणा की है।

मुजफ्फरनगर के कर्फ्यू प्रभावित तीन थानों में गुरुवार को नौ घंटे की ढील दी गई।

मुजफ्फरनगर जाने की कोशिश कर रहे भाजपा नेता कलराज मिश्र समेत कुल 12 विधायकों को और लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजित सिंह व अन्य नेताओं को रोका गया।

सरकारी आंकड़ा 43 मौतों का
इस बीच हिंसा में मरने वाली का सरकारी आंकड़ा 43 पहुंच गया। अफसरों ने माना कि इनमें से 38 की मुजफ्फरनगर में, तीन की बागपत में एक की सहारनपुर में व एक की मेरठ में मौत हुई।

यह हुई कार्रवाई
मुजफ्फरनगर में हालात सामान्य की ओर बढ़ रहे हैं इस वजह से गुरुवार को जहां पहले सात घंटे की कर्फ्यू में ढील दी जानी थी, वहां उसे बढ़ाकर नौ घंटे तक कर दिया गया था। ढील के दौरान कहीं किसी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं हुई।

इस बीच उपद्रवियों को चिह्नित कर उनकी धर-पकड़ का सिलसिला जारी रहा और अब तक 1700 से अधिक को गिरफ्तार करने के साथ ही 2300 से अधिक लोगों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई की जा चुकी है।

धर-पकड़ की कार्रवाई के दौरान सौ से अधिक अवैध असलहे बरामद होने की बात भी स्वीकार की गई। गृह सचिव कमल सक्सेना ने कहा कि रमाला गांव में एक व्यक्ति के घर से तलाशी में एके-47 एसाल्ट राइफल के कुल 41 कारतूस बरामद हुए।

तलाशी के समय यह व्यक्ति घर में मौजूद नहीं था। गृह सचिव के मुताबिक यह व्यक्ति बीएसएफ में तैनात रहा है और अवकाश पर चल रहा है। उन्होंने संभावना जताई कि अपनी तैनाती के दौरान ही उसने इन कारतूसों को खरीदा होगा।

शुरू हुई लापता लोगों की तलाश
हिंसा के दौरान लापता होने वालों की सूचना दर्ज कराने का सिलसिला शुरू हो गया है। गुरुवार को दिन में मुजफ्फरनगर में पांच और सहारनपुर में एक व्यक्ति के लापता होने की सूचना दर्ज की गई है।

जानकारों के मुताबिक ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र के लोग लापता हुए हैं और अभी उनके परिवार के सदस्य अधिकारियों तक अपनी सूचना नहीं पहुंचा सके हैं।

मवाना के सीओ व इंस्पेक्टर हटाए गए
हिंसा के दौरान लापरवाही बरतने के कारण मेरठ के मवाना सर्किल के सीओ वीपी सिंह को हटा दिया गया है। मवाना के ही प्रभारी निरीक्षक उदयवीर सिंह लाइन हाजिर कर दिए गए।

बागपत में दोघट थाने की बमनौली चौकी के प्रभारी तेजपाल सिंह और वाजिदपुर चौकी के प्रभारी मुनींद्रवीर सिंह को निलंबित कर दिया गया है।

इसी तरह मुजफ्फरनगर के भौराकला के थाना प्रभारी सुभाष चंद्र, शाहपुर थाने के प्रभारी इंद्रमणि वर्मा और मीरपुर के थाना प्रभारी प्रमोद सिंह को निलंबित कर दिया गया है।

दो दिन पहले इन्हें थाने से हटाया गया था और फुगाना के प्रभारी निरीक्षक ओमवीर सिरोही को निलंबित किया गया था।

About the author

NCR Khabar News Desk

एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews@ncrkhabar.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं