main news

ग्रेनो वेस्ट में प्रदुषण रोकने के बनाए EPCAपर तुगलगी नियमो के कारण बरसे लोग, क्षेत्रीय अधिकारी को अक्टूबर में ही क्यूँ याद आया डीजल जनरेटर पर प्रतिबन्ध

15 अक्टूबर से से दिल्ली एनसीआर में एक बार फिर से बढते प्रदुषण को रोकने के लिए EPCA के आदेश पर सबसे पहले डीजल जनरेटर बंद कर दिए गये I लेकिन EPCA के इस तुगलकी कानून के चलते हाई राइज सोसाइटी के लोगो का गुस्सा फुट पड़ा I

This image has an empty alt attribute; its file name is 4d7762f6-ebe5-4c00-bd75-b8fbf63f2d8f-1024x258.jpg

डीजल जनरेटर बंद होने के कारण कल सुबह से ही कई बार गई लाईट के चलते सुबह बच्चो की क्लासेस रुक गयी तो कई कोरोना के कारण वर्क फ्रॉम होम कर रहे लोगो के आफिस काल भी डिसकनेक्ट हो गये I १० वी मजिल से उपर रहने वाले कई लोग तो लिफ्ट बंद होने के कारण उपर ही रहने को मजबूर होना पड़ा

वहीं EPCA की क्षत्रीय अधिकारी ने इस मामले के सामने आने पर लिफ्ट और ज़रूरी सप्लाई के लिए जनरेटर चलाने की बात कही I लेकिन लोगो के इस पर भी EPCA समेत अधिकारियों की समझ पर सवाल उठाये है

अरिहंत अम्बर में रहने वाले एक नागरिक ने कहा @CPCB_OFFICIAL @UppcbN बहुत हास्यास्पद नियम है कि लिफ्ट के लिए DG चलेगा और घरों में सप्लाई नहीं होगी। आपका उद्देश्य प्रदूषण नियंत्रण करना है या आम जनता को परेशान?
बिल्डरों को CNG DG के लिए क्यों बाध्य नहीं किया जा रहा है जब highrise societies में सबने पावर बैकअप का भुगतान किया है

असल में यही लोगो का सवाल जायज भी है , EPCA के क्षेत्रीय अधिकारी पुरे साल सोये रहे लेकिन सर्दियों की आहट होते ही आनन् फानन में डीजल जेनरेटर बंद करवाने के आदेश दे दिए I अधिकाँश सोसाइटी में कामन सर्विसेज एरिया और फ़्लैट के लिए अलग अलग जेनरेटर तक नहीं है लेकिन पिछली बार भी ऐसी समस्या आने के बाबजूद क्षेत्रीय अधिकारी ने कभी इस पर कोई योजना नहीं बनाई ना ही लोगो और अथारटी अधिकारियों के साथ इसकी चर्चा की

क्षेत्रीय अधिकारी ये बताने को तैयार नहीं कि आखिर उन्होंने पिछले साल हुई कवायद के बाद आखिर इस साल शुरू से ही क्यूँ कड़े कदम नहीं उठाये आखिर क्यूँ वो सोते रहे I आखिर अधिकारियों को समस्याओं के शुरू होने पर ही सिर्फ जनता को परेशान करने का काम आता है क्या ?

सबको पता था कि डीजल जनरेटर को अक्टूबर में फिर से बंद करना होगा और इसके लिए सोसाइटी और उधोगो को 9 महीने पहले ही इसके लिए नोटिस भेजने चाहिए थे लेकिन अब इन अधिकारियों की अक्षमता का खामियाजा स्कुल के बच्चे और वर्क फ्रॉम होम कर रहे लोगो और बुजुर्गो को भुगतना होगा

About the author

एन सी आर खबर ब्यूरो

एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews.ncrkhabar@gmail.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं