main newsएनसीआरनोएडा

हड़ताल का आज दूसरा दिन, अब तक 26 हजार करोड़ डूबे

यूपीए सरकार की जन और मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ देश की 11 बड़ी ट्रेड यूनियनों के द्वारा बुलाई गई हड़ताल का आज दूसरा दिन है। पहले दिन उत्तर भारत समेत केरल, त्रिपुरा और बिहार में आम जनजीवन पर हड़ताल का जबर्दस्त असर दिखा।

हरियाणा और नोएडा में हुई हिंसा, आगजनी व तोड़फोड़ के बीच अर्थव्यवस्‍था को 26 हजार करोड़ की चपत लगी। यूनियनों ने हड़ताल के पहले दिन मिले जनसमर्थन को अभूतपूर्व बताते हुए उम्मीद की कि सरकार अब शायद नींद से जागेगी। हालांकि सरकार ने अब तक यूनियनों की मांगे मानने या बातचीत के संकेत नहीं दिए हैं।

बुधवार को ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाई गई हड़ताल ने हरियाणा और नोएडा में हिंसक रूप ले लिया। हरियाणा में हड़ताल में शामिल एक यूनियन लीडर की मौत हो गई, वहीं नोएडा में कर्मचारी फैक्ट्री मालिकों से भिड़ गए। इसके बाद हुई उग्र हिंसा में कर्मचारियों ने सैकड़ों फैक्ट्रियों ने तोड़फोड़ की।

आधा दर्जन फैक्ट्रियों और करीब दो दर्जन वाहनों में आग लगा लगा दी। जमकर लूटपाट भी हुई। सेक्टर 82 से ग्रेटर नोएडा के एंट्री पाइंट तक कर्मचारियों ने कारों, बसों और फायर इंजिन को आग के हवाले किया। ओडिशा और कर्नाटक से भी हिंसा की छिटपुट वारदातें हुईं। तमाम राज्यों की राजधानियों में बैंकिंग और वित्तीय संस्थानों तथा बसों-टैक्सियों के बंद में शामिल होने से आम जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ।

नोएडा में 32 लोग गिरफ्तार 

नोएडा में फैक्ट्री मालिकों के रवैये को लेकर औद्योगिक सेक्टरों में मजदूरों का गुस्सा भड़क गया और उन्होंने जमकर तांडव किया। मजदूरों की पुलिस से झड़प हुई और उग्र भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग से लेकर रबड़ की गोलियां तक दागीं। इस बीच फायर बिग्रेड की एक गाड़ी में आग लगा दी गई। आधा दर्जन पुलिस वाहनों में भी तोड़फोड़ हुई। इस मामले में देर शाम तक 32 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका था।

Also Read:  जेवर की 6 ग्राम पंचायतों का अस्तित्व होगा समाप्त

अंबाला में यूनियन लीडर की मौत 
हरियाणा के अंबाला में सरकारी बस को डिपो से बाहर निकालने से रोकने को लेकर एक रोडवेज कर्मचारी नेता, 55 वर्षीय नरेंद्र सिंह बस की चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई। घटना चार बजे तड़के की है। इसके बाद बिफरे यूनियन नेताओं व सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। गुस्साए मुलाजिमों ने डीसीपी शहरी तथा एसएचओ की गाड़ियों में तोड़फोड़ की और गाड़ियों को पलट दिया।

मारुति, हीरो ने घोषित की छुट्टी
कार बाजार की लीडर मारुति सुजुकी इंडिया और दोपहिया वाहनों की प्रमुख हीरो मोटोकॉर्प ने कर्मचारी यूनियनों द्वारा की जा रही हड़ताल के उग्र रूप को देखते हुए अपनी गुड़गांव-मानेसर इकाइयों में बुधवार की छुट्टी घोषित की है। इन इकाइयों के कर्मचारी भी हड़ताल के समर्थन में हैं। हड़ताल की इस छुट्टी के बदले कर्मचारी रविवार को काम करेंगे। मारुति उद्योग कामगार यूनियन ने मैनेजमेंट के साथ बैठक में यह रास्ता निकाला। यूनियन के महासचिव कुलदीप झांगू ने यह जानकारी दी है।

एन सी आर खबर ब्यूरो

हम आपके भरोसे ही स्वतंत्र ओर निर्भीक ओर दबाबमुक्त पत्रकारिता करते है I इसको जारी रखने के लिए हमे आपका सहयोग ज़रूरी है I अपना सूक्ष्म सहयोग आप हमे 9654531723 पर PayTM/ GogglePay /PhonePe या फिर UPI : 9654531723@paytm के जरिये दे सकते है एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews.ncrkhabar@gmail.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button