main newsभारत

हैदराबाद ब्लास्ट: 14 की मौत 119 घायल, बीजेपी का बंद

हैदराबाद में हुए आतंकी हमले में अब तक 14 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है और 119 लोग घायल हुए हैं. बीजेपी ने आंध्रप्रदेश बंद का आह्वान किया.

हैदराबाद में हुए आतंकी हमले में अबतक 14 लोगों की मौत हो गई है. हादसे में 119 लोग घायल हुए हैं. जिसमें से 6 की हालत गंभीर है. गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने बताया कि खुफिया विभाग ने अलर्ट तो जारी किया था लेकिन किसी खास इलाके के बारे में जानकारी नहीं दी गई थी.

गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने शुक्रवार घटनास्थल का दौरा किया. शिंदे ने उन दो जगहों का जायजा लिया जहां ब्लास्ट हुए हैं. ब्लास्ट के मुद्दे पर शिंदे संसद के दोनों सदनों में भी अपना बयान देंगे.

घायलों का इलाज 
हैदराबाद के सीरियल बम विस्फोट में घायल लोगों का इलाज वहां के कई अस्पतालों में चल रहा है. ओस्मानिया अस्पताल में भी कई घायलों को लाया गया है. कुल 120 से ज्यादा लोग घायल हैं जिनमें से 4 की हालत गंभीर बताई जा रही है.

घटनास्थल पर जांच टीम धमाकों से जुड़े सबूत जुटाने की कोशिश कर रही है. प्रशासन ने घटनास्थल के पास सुरक्षा कड़ी कर दी है. हैदराबाद पुलिस रैपिड एक्शन फोर्स को तैनात किया गया है. इसके अलावा प्रशासन जांच के लिए खोजी कुत्ते की भी मदद ले रही है. गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने भी घटनास्थल का जायजा लिया और कुछ घायलों से भी मुलाकात की.

बीजेपी ने किया बंद का आह्वान
वहीं बीजेपी ने शुक्रवार को आंध्र प्रदेश बंद का आह्वान किया है है. इसके अलावा अध्यक्ष राजनाथ सिंह भी हैदराबाद जाएंगे. राजनाथ शुक्रवार दोपहर एक बजे हैदराबाद पहुंचेंगे.

Also Read:  शाहबेरी में अवैध निर्माण पर कब खुलेगी प्राधिकरण की आंख : 6 मंजिला बिल्डर फ्लोर के बेसमेंट में लगी आग

साइकिल में रखे बम
गृह मंत्री के मुताबिक बम साइकिल में रखे गए थे. कहा जा रहा है कि आतंकियों ने ब्लास्ट करने के लिए दो साइकिलों का इस्तेमाल किया. इन लोगों ने भीड़भाड़ वाले इलाके में साइकिल खड़ी की और किसी को उन पर शक नहीं हुआ.

इससे पहले गुरुवार को शिंदे ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘दिलखुश नगर में दो विस्फोट हुए. मैंने मुख्यमंत्री (किरण कुमार रेड्डी) से बात की है और उन्होंने मुझे बताया कि बम दो साइकिलों में लगाकर रखे गए थे. एक जगह पर विस्फोट में आठ लोग मारे गए तथा दूसरी जगह पर तीन लोगों की जान गई. 50 लोग घायल भी हुए हैं.’’

केंद्रीय गृह मंत्रालय और हैदराबाद पुलिस ने दोनों धमाकों की आधिकारिक पुष्टि कर दी है.

सूत्रों ने बताया कि ये ब्लास्ट शहर के दिलसुखनगर में वेंकटाद्री सिनेमा के पास हुए. इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि धमाके किस प्रकार के थे और किस मकसद से किए गए. सूत्रों ने बताया कि पहला ब्लास्ट सिनेमा हॉल के पास हुआ, जबकि दूसरा बस स्टैंड के पास.

धमाकों के बाद इंडियन मुजाहिद्दीन शक के घेरे में आया. बताया गया कि हैदराबाद विस्फोट टाइमर के ज़रिये किया गया.
धमाकों के तुरंत बाद पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया. सूत्रों ने बताया कि दोनों धमाके काफी ज़ोरदार थे. एक रिपोर्ट में कहा गया कि पहला ब्लास्ट शाम 7.01 बजे हुआ और दूरा इसके पांच मिनट के बाद और तीसरा 15 मिनट बाद.

पुलिस और बम निष्क्रिय करने वाले दस्ते तुरंत हरकत में आ गए और खोजबीन शुरू कर दी.

Also Read:  ग्रेटर नोएडा वेस्ट : रेडिकान वेदांतम सोसाइटी में 2 आवारा कुत्तों ने किया बुजुर्ग पर आक्रमण

धमाकों के बाद गृह मंत्रालय ने देश के सभी बड़े शहरों में अलर्ट जारी कर दिया है.

ब्लास्ट के बाद आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री किरण रेड्डी ने आपात बैठक बुलाई.

सरकार ने दिल्ली से एनआईए और एनएसजी की टीम को हैदराबाद भेजने का फैसला किया.

दिलसुख नगर हैदराबाद का सबसे बड़ा फलों का बाज़ार है. बताया जा रहा है कि जिस वक्त धमाके हुए उस वक्त बाज़ार में काफी भीड़भाड़ थी. मौके पर काफी लोगों के मौजूद होने के कारण अफरातफरी मच गई और लोग सुरक्षा के लिए इधर उधर भागने लगे.  पुलिस ने बताया कि तमाम संवेदनशील इलाकों, रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत कर दी गई है.

गृहमंत्रालय के मुताबिक हैदराबाद में ब्लास्ट सीरीयल बम विस्फोट का नतीजा है. महत्वपूर्ण है कि खुफिया विभाग ने हैदराबाद में हमले की सूचना पहले ही दे दी थी और आंध्र प्रदेश पुलिस को अलर्ट रहने को कहा था.

उल्लेखनीय है कि गृह मंत्रालय ने दो दिन पहले ही अलर्ट जारी किया था.

हैदराबाद में विस्फोटों के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ,कर्नाटक और पश्चिम बंगाल समेत देश के विभिन्न राज्यों में सुरक्षा बढ़ा दी गई.

इससे पहले भी हैदराबाद बम धमाकों से दहल चुका है. शहर में पिछला धमाका 25 अगस्त, 2007 को हुआ था जिसमें दो ब्लास्ट लगभग साथ-साथ हुए थे.

मनमोहन ने जताया अफसोस
हैदराबाद में हुए सीरीयल बम धमाकों पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दुख जताया है और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

धमाकों के तुरंत बाद प्रधानमंत्री ने आपात बैठक बुलाकर हालात पर चर्चा की.

Also Read:  रविवार विशेष : शाहबेरी - ग्रेनो वेस्ट में शहर के बीच एक अभिशप्त गांव

प्रधानमंत्री ने केंद्रीय जांच एजेंसियों को आंध्र प्रदेश को हर संभव मदद देने के निर्देश दिए. उन्होंने यह भी कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

मुआवज़े की घोषणा
मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री राहत कोष से विस्फोट में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये का मुआवज़ा देने की घोषणा की है. इसके अलावा गंभीर रूप से घायल हुए प्रत्येक व्यक्ति को 50-50 हजार रुपये देने को भी मंजूरी दी.

हेल्पलाइन नंबर
हैदराबाद पुलिस ने आम जनता के लिए कंट्रोल रूम के नंबर जारी किए हैं.

कंट्रोल रूम नंबर: 27853412, 27853418, 9490617100

सरूर नगर कंट्रोल नंबर: 227853903

अन्य जानकारी के लिए: 09490617164

NCR Khabar News Desk

एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews@ncrkhabar.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button