भारत

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव देवरिया में करेंगे सीओ के परिवार से मुलाकात

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव देवरिया जा रहे हैं जहां वह प्रतापगढ़ के कुंडा के शहीद सीओ ज़िया उल हक के परिवार से मुलाकात करेंगे.

मालूम हो कि देवरिया में शहीद सीओ की हत्या मामले में उनकी पत्नी परवीन आज़ाद धरने पर बैठी हैं. परवीन का कहना है कि उनके पति की हत्या की गई है. उनका कहना है कि एक साजिश के तहत उन्हें गोलियां मारी गई थीं.

सीएम ने जताया दुख
मुख्य मंत्री ने सोमवार दिन में सीओ के मारे जाने की घटना पर दुख जताया. विधानसभा में इस घटना पर अफसोस प्रकट करते हुए उन्होंने इसं गंबीर बताया और कहा कि इससे पूरा सदन दुखी है. साथ ही उन्होंने इस बात का आश्वासन भी दिया कि मामले की निष्पक्ष जांच होगी और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

अखिलेश ने सदन में यह भी कहा कि राज्य सरकार इस पूरे मामले में किसी भी जांच के लिए तैयार है.

सदन में हंगामा
पुलिस उपाधीक्षक की हत्या की गूंज सोमवार को विधानसभा में भी सुनाई दी. इस मुद्दे को लेकर विपक्षी दलों के जोरदार हंगामे के कारण प्रश्नकाल नहीं हो सका.

सदन की बैठक शुरू होते ही कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता प्रदीप माथुर, भाजपा में उनके समकक्ष हुकुम सिंह तथा नेता प्रतिपक्ष स्वामी प्रसाद मौर्य ने प्रतापगढ़ के कुंडा क्षेत्र में भीड़ द्वारा पुलिस उपाधीक्षक जिया-उल-हक की हत्या किये जाने के मामले पर चर्चा कराने की मांग की.

नैतिकता के आधार पर अखिलेश यादव को एक मिनट भी पद पर रहवने का अधिकार नहीं है.

वारदात के मुद्दे पर विपक्षी सदस्यों ने शोरशराबा शुरू कर दिया. विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय ने सदस्यों से अपने-अपने स्थान पर जाने का आग्रह किया लेकिन हंगामा जारी रहने की वजह से सदन की कार्यवाही पहले आधे घंटे के लिये और फिर पूरे प्रश्नकाल तक के लिये स्थगित कर दी गयी.

Also Read:  योगी कैबिनेट ने जौहर यूनिवर्सिटी की लीज किया निरस्त 

सीएम के इस्तीफे की मांग
कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता प्रदीप माथुर ने बाद में संवाददाताओं से कहा कि सरकार कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर नाकाम रही है और सूबे में बढ़ती अपराधों की संख्या इसका सुबूत है.

बसपा के वरिष्ठ नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने प्रतापगढ़ में पुलिस अफसर समेत तीन लोगों की हत्या के मामले में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के इस्तीफे की मांग की. उन्होंने कहा कि नैतिकता के आधार पर अखिलेश यादव को एक मिनट भी पद पर रहवने का अधिकार नहीं है.

भाजपा नेता हुकुम सिंह ने भी प्रदेश में बढ़ते अपराधों के लिये राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने प्रतापगढ़ में हुई वारदात के दोषी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग भी की.

राजा भैया ने दिया इस्तीफा
उत्तर प्रदेश के राज्यपाल ने खाद्य एवं रसद मंत्री राजा भैया का इस्तीफा मंज़ूर कर लिया है. महत्वपूर्ण है कि राजा भैया के ऊपर सीओ हत्याकांड में साजिश रचने के आरोप लगे हैं और एफआईआर भी दर्ज की गई है. मामले में हंगामे के बाद राजा भैया ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात भी की.

राष्ट्रपति शासन लगे: मायावती
इस बीच बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) मुखिया और प्रदेश की पूर्व मुख्य मंत्री मायावती ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग की है. प्रदेश के ताज़ा हालात के देखते हुए उन्होंने राज्य मे राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग की.

उधर समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने मायावती की राष्ट्रपति शासन लगाे जाने की मांग पर नाराज़गी जताई है.

Also Read:  योगी कैबिनेट ने जौहर यूनिवर्सिटी की लीज किया निरस्त 

गौरतलब है कि शनिवार रात प्रतापगढ़ के कुंडा स्थित वलीपुर के ग्राम प्रधान नन्हें यादव की हत्या की खबर पाकर मौके पर पहुंचे पुलिस उपाधीक्षक जिया-उल-हक की भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने नृशंस हत्या कर दी थी.

NCR Khabar News Desk

एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews@ncrkhabar.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button