भारत

सीबीआइ को नहीं मिल रहा राजा भैया के खिलाफ गवाह

प्रतापगढ़ के बलीपुर गांव में यादव बंधु और सीओ कुंडा जियाउल हक की हत्या की जांच कर रही सीबीआइ ने गांव वालों से दोस्ताना पहल की है। सीबीआइ ने गांव छोड़कर फरार हो गये पुरुषों से वापस लौटने का अनुरोध किया है। साथ ही भरोसा दिया है कि सीबीआइ किसी का उत्पीड़न नहीं करेगी और जो शख्स सूचना देगा उसकी पहचान छुपाकर रखी जायेगी।

बलीपुर के तिहरे हत्याकांड में कुंडा विधायक और पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया भी जांच के दायरे में हैं। उन पर सीओ कुंडा की हत्या के षड्यंत्र का मुकदमा है। कुंडा क्षेत्र में सीबीआइ को दोहरी चुनौती का सामना करना पड़ा। एक तरफ तो अभियुक्तों के घर-परिवार के लोग फरार हो गये हैं, दूसरी तरफ पूरे गांव के पुरुष वर्ग का पता नहीं है। जो लोग सीबीआइ को मिले भी, वह राजा भैया के बारे में अपनी जुबान नहीं खोल रहे हैं। गांव के सन्नाटे में साक्ष्य व गवाहों की तलाश कर रही सीबीआइ को कुछ सूझ नहीं रहा है। ऐसे में रविवार को सीबीआइ ने अपील जारी कर ग्रामीणों से सहयोग मांगा है।

सीबीआइ ने कहा है कि अगर कोई भी व्यक्ति सहयोग करना चाहता या कोई भी जानकारी देना चाहता है तो कुंडा के नगर पंचायत में सीबीआइ के कैंप कार्यालय में आकर सूचना दे सकता है। सीबीआइ ने 05341-230006 नंबर पर सम्पर्क व फैक्स करने या इमेल पर अपनी सूचना भेजने को कहा है। सीबीआइ ने अपनी इमेल आइडी ‘एसपीएससीयू1डीइएल एटडीरेट सीबीआइ डाट जीओवी डाट इन’ भी दी है। सीबीआइ का कहना है कि निष्पक्ष जांच के लिए लोगों का सहयोग जरूरी है।

Also Read:  उत्तर प्रदेश का बजट 21 फरवरी को पेश होगा

राजा भैया के खिलाफ लोगों की नहीं खुल रही जुबान

लखनऊ  प्रतापगढ़ के बलीपुर गांव में यादव बंधु और कुंडा के डीएसपी जियाउल हक की हत्या की जांच कर रही सीबीआइ परेशान है। उसे उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के खिलाफ क्षेत्र में कोई बोलने वाला नहीं मिल रहा है। इसे देखते हुए जांच एजेंसी ने एक नई पहल की है। सीबीआइ ने घटना के बाद से गांव छोड़कर फरार हुए पुरुषों से वापस लौटने का अनुरोध किया है। साथ ही भरोसा दिया है कि सीबीआइ किसी का उत्पीड़न नहीं करेगी और जो शख्स सूचना देगा उसकी पहचान छुपाकर रखी जाएगी।

बलीपुर के तिहरे हत्याकांड में कुंडा विधायक व पूर्व मंत्री राजा भैया भी जांच के दायरे में हैं। उन पर डीएसपी कुंडा की हत्या के षड्यंत्र का मुकदमा है। इसकी जांच में लगी सीबीआइ को कुंडा क्षेत्र में दोहरी चुनौती का सामना करना पड़ा। एक तरफ तो अभियुक्तों के घर-परिवार के लोग फरार हो गए हैं, दूसरी तरफ पूरे गांव के पुरुष वर्ग का पता नहीं है। जो लोग सीबीआइ को मिले भी, वह राजा भैया के बारे में अपनी जुबान नहीं खोल रहे हैं। गांव के सन्नाटे में साक्ष्य व गवाहों की तलाश कर रही सीबीआइ को कुछ सूझ नहीं रहा है। ऐसे में रविवार को सीबीआइ ने अपील जारी कर ग्रामीणों से सहयोग मांगा है।

सीबीआइ ने कहा है कि अगर कोई व्यक्ति सहयोग करना चाहता या कोई भी जानकारी देना चाहता है तो कुंडा के नगर पंचायत में सीबीआइ के कैंप कार्यालय में आकर सूचना दे सकता है। इसके लिए फोन नंबर, फैक्स नंबर व ई-मेल आइडी भी जारी की गई है। सीबीआइ का कहना है कि निष्पक्ष जांच के लिए लोगों का सहयोग जरूरी है।

Also Read:  उत्तर प्रदेश का बजट 21 फरवरी को पेश होगा

खंगाली जा रही राजा भैया की कॉल डिटेल

प्रतापगढ़  कुंडा कांड को लेकर मचे सियासी घमासान के बीच राजा भैया की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। साथ ही घटना के वक्त राजा भैया और उनके करीबियों की लोकेशन का पता लगाया जा रहा है। हालांकि, इसे गोपनीय रखा गया है।

बता दें कि हथिगवां क्षेत्र के बलीपुर में दो मार्च को प्रधान बंधुओं और सीओ जियाउल हक की हत्या कर दी गई थी। विपक्ष के निशानों से घिरी अखिलेश सरकार ने अपना दामन साफ रखने के लिए कुंडा कांड को सीबीआइ के हवाले कर दिया।

इस कांड में एक अहम सवाल यह उठ रहा है कि घटना के वक्त राजा भैया, नगर पंचायत अध्यक्ष गुलशन यादव, प्रतिनिधि हरिओम श्रीवास्तव, चालक रोहित सिंह व गुड्डू सिंह कहां थे। हालांकि, राजा भैया ने लखनऊ प्रेस कांफ्रेंस में दावा किया था कि घटना के वक्त वह और रोहित लखनऊ में थे। उन्होंने ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आवास पहुंचकर घटना की जानकारी दी थी।

राजा भैया की सफाई के बाद सीबीआइ को अपनी तफ्तीश में यह साबित करना होगा कि राजा भैया और उनके करीबी घटना के वक्त कहां थे। इसके लिए राजा भैया, गुलशन यादव, हरिओम श्रीवास्तव, रोहित सिंह, गुड्डूं सिंह के अलावा अन्य करीबियों की लोकेशन का पता लगाया जा रहा है। इनकी मोबाइल काल डिटेल खंगाली जा रही है। यह देखा जा रहा है कि कौन किस मोबाइल टावर के रेंज में था। सीओ हत्याकांड का तार जोड़ने के लिए सीबीआइ के पास यह महत्वपूर्ण साक्ष्य होगा।

NCR Khabar News Desk

एनसीआर खबर.कॉम दिल्ली एनसीआर का प्रतिष्ठित और नं.1 हिंदी समाचार वेब साइट है। एनसीआर खबर.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय,सुझाव और ख़बरें हमें mynews@ncrkhabar.com पर भेज सकते हैं या 09654531723 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं

Related Articles

Back to top button