main newsएनसीआरग्रेटर नॉएडाग्रेटर नॉएडा वेस्टदिल्लीनोएडा

नोएडा में भारत बंद का असर नहीं, पुलिस ने विपक्षी नेताओं को किया नजरबंद, दिल्ली में भी मंडिया खुली

गौतमबुध नगर जिले में शहरी क्षेत्रों में बंद का असर दिखाई नहीं दे रहा है लगभग सभी मार्केट खुले हुए हैं इससे पहले पुलिस ने गौतम बुध नगर के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के नोएडा और जिला अध्यक्ष दोनों को गिरफ्तार कर लिया है

विपक्षी दलों से मिली सूचना के अनुसार कई नेताओं को घर में नजरबंद कर दिया गया है जिसके बाद गौतम बुध नगर जिले में बंद का कोई असर नहीं दिख रहा है एनसीआर खबर ने जगह-जगह घूमकर बाजार का जायजा लिया जहां सभी बाजार खुले हुए हैं

वहीं दिल्ली से आ रही सूचना के अनुसार भी बाजार खुले हुए हैं आजादपुर मंडी खुल गई है हालांकि आजादपुर मंडी के चेयरमैन आदिल खान ने यह दावा किया था कि आज सभी मंडियां बंद रहेंगे लेकिन सभी मंडी खुली हैं कपिल मिश्रा ने ट्वीट किया जिसमें उन्होंने फल सब्जी मंडियाँ खुलने की बात कहीं। उन्होंने लिखा, “दिल्ली की फल सब्जी मंडियाँ खुल गई हैं। ओखला, आजादपुर मंडियों में व्यापार जारी है। दिल्ली की सारी मार्केट, बाजार, इंडस्ट्रियल एरिया खुलेंगे- सदर बाजार, चाँदनी चौक, लाजपत नगर, सरोजिनी, गाँधी नगर, नेहरू प्लेस, कनॉट प्लेस, करोलबाग, कमला नगर सब खुलेगा। दिल्ली में बंद फ्लॉप।”

नीलकांत बक्शी ने भी अपने ट्वीट में आम आदमी पार्टी द्वारा नियुक्त चेयरमैन के दबाव का जिक्र किया। उन्होंने कहा, “ओखला मंडी पूर्ण रूप से खुली है। आम आदमी पार्टी नियुक्त चेयरमैन आदिलजी ने बड़ा जोर लगाया कि यहाँ तो उनकी चल जाएगी लेकिन कुछ ना हुआ, मंडी खुली और माल का भरमार है। ओखला मंडी आभार।

वही आम आदमी पार्टी का आरोप है कि दिल्ली पुलिस ने भाजपा की मदद से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घर में ही नजरबंद कर दिया है। सिंघु बॉर्डर से लौटने के बाद कल से नजरबंद जैसे हालात बना दिए गए हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सभी बैठकें रद्द हो गई हैं।

उत्तरी दिल्ली के डीसीपी अंटो अल्फोंस ने आप के आरोपों को नकारते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री के घर के बाहर तैनात पुलिस और बैरिकेडिंग सामान्य रूप से होने वाली सुरक्षा व्यवस्था के तहत किया गया है ताकि आम आदमी पार्टी और अन्य पार्टियों में कोई झड़प न हो। मुख्यमंत्री को घर में नजरबंद नहीं किया गया है।

वही कांग्रेस सेवा दल नॉएडा के उपाध्यक्ष शैलेन्द्र बरनवाल ने आरोप लगाया कि बीजेपी एवं इनके समर्थन की राज्य सरकारें शासन प्रशासन का दुरुपयोग कर विपक्षी नेताओं पर दबाव बढ़ा दिया, उन्हें शांतिपूर्ण एवं लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करने से रोका जा रहा है l नेताओं को नजरबंद कर दिया गया है तो कई को रात में हिरासत में ले लिया गया lऐसा तो अंग्रेजों के जमाने में होता था l अंग्रेज सरकार ने देशभक्तों पर जुल्म करती थी l बिना वजह झूठे आरोप लगाकर गिरफ्तार कर लेती थी

NCRKhabar Mobile Desk

हम आपके भरोसे ही स्वतंत्र ओर निर्भीक ओर दबाबमुक्त पत्रकारिता करते है I इसको जारी रखने के लिए हमे आपका सहयोग ज़रूरी है I अपना सूक्ष्म सहयोग आप हमे 9654531723 पर PayTM/ GogglePay /PhonePe या फिर UPI : 9654531723@paytm के जरिये दे सकते है

Related Articles

Back to top button